वचन पत्र में किए गए वायदे पूरे कर रही है सरकार-खेल मंत्री श्री पटवारी, राज्य स्तरीय गुरूनानक देवजी प्रांतीय ओलम्पिक खेल का रंगारंग शुभारंभ

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.
तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल
समाचार
वचन पत्र में किए गए वायदे पूरे कर रही है सरकार-खेल मंत्री श्री पटवारी
खिलाड़ी को संघर्ष से घबराना नहीं चाहिए-जनसंपर्क मंत्री श्री शर्मा
टेलेन्ट और जूनुन से मिलती है मंजिल- राजस्व मंत्री श्री राजपूत
राज्य स्तरीय गुरूनानक देवजी प्रांतीय ओलम्पिक खेल का रंगारंग शुभारंभ

भोपालः 01 फरवरी, 2020

टी.टी. नगर स्टेडियम में आज राज्य स्तरीय गुरूनानक देव जी प्रांतीय ओलम्पिक खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ हुआ। प्रदेश के राजस्व और परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने प्रतियोगिता के शुभारंभ की विधिवत घोषणा की। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी, पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अरूण यादव तथा पद्मश्री ओलम्पियन तीरंदाज सुश्री दीपिका कुमारी द्वारा रंगीन गुब्बारे आकाश में छोड़े गए। इस मौके पर आकर्षक आतिशबाजी भी की गई। समारोह में मल्लखम्ब खिलाड़ियों की शानदार प्रस्तुति के साथ ही प्रदेश के दस संभागों से आये खिलाड़ियों ने आकर्षक मार्च पाॅस्ट किया। समारोह में खेलो इंडिया यूथ गेम्स के पदक विजेता खिलाड़ियों को प्रोत्साहन राशि प्रदान कर सम्मानित किया गया।

शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए खेल और युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी ने कहा कि ग्रामीण प्रतिभाओं को खेलों में प्रर्याप्त अवसर दिलाने के लिए मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की मंशानुसार गुरूनानक देवजी प्रांतीय ओलम्पिक खेल की प्रदेश में शुरूआत कर सरकार ने वचन पत्र में किए वायदे को पूरा किया है। उन्होंने खेल विभाग द्वारा संचालित योजनाओं और उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि अकादमी के 822 खिलाड़ियों का बीमा कराने वाला मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य है। खिलाड़ियों के हित में सरकार ने कई कल्याणकारी निर्णय लिए हैं। खिलाड़ियों की प्रोत्साहन राशि में कई गुना बढ़ोतरी की गई है। खिलाड़ियों को शासकीय नौकरी में 5 फीसदी आरक्षण दिये जाने का सरकार द्वारा निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि खेल प्रेमी मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने खेलो इंडिया यूथ गेम्स के पदक विजेता खिलाड़ियांें की प्रोत्साहन राशि दोगुनी कर उन्हंे सौगात प्रदान की है। खेल मंत्री श्री पटवारी ने बताया कि खेल विभाग द्वारा विधानसभा क्षेत्रवार प्रत्येक विधायक को लोकप्रिय खेलों के विकास के लिए 5 लाख रूपये तक के अनुदान की स्वीकृति प्रदान की जायेगी। उन्होंने प्रतियोगिताओं में भागीदारी कर रहे सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी।

समारोह को संबोधित करते हुए जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने खिलाड़ियों से कहा कि वे संघर्ष से घबराएं नहीं क्योंकि जीतने के लिए हार से भी सामना करना पड़ता है। उन्होंने मुख्यमंत्री की कार्यशैली और खिलाड़ियों के प्रति उनकी भावना की सराहना करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी ने कैबिनेट की बैठक में पर्वतारोही सुश्री मेघा परमार और भावना डेहरिया को बुलाकर उनका सम्मान किया। उन्होंने खिलाड़ियों को प्रांतीय ओलम्पिक में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि सरकार ने इस प्रतियोगिता के माध्यम से आपको अवसर दिया है और आप कह सकते है कि हम भी ओलम्पियन हैं।
राजस्व और परिवहन मंत्री श्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि बिना टेलेन्ट और जूनुन के खिलाड़ी अपनी मंजिल नहीं पा सकते हैं। उन्होंने प्रांतीय ओलम्पिक में भागीदारी कर रहे खिलाड़ियों से कहा कि काफी संर्घष के बाद आप यहां तक पहुंचे हैं, अपनी उत्कृष्ट खेल प्रतिभा का प्रदर्शन कर सफलता प्राप्त करें। समारोह को पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री अरूण यादव ने भी संबोधित किया।
समारोह को संबोधित करते हुए पद्मश्री ओलम्पियन तीरंदाज सुश्री दीपिका कुमारी ने जहां खिलाड़ियों को मिल रही ख्ेाल सुविधाओं के लिए मध्य प्रदेश सरकार की मुक्तकंठ से सराहना की वहीं उन्होंने खिलाड़ियों को खेलों में कैरियर बनाने के संबंध में टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि मैने जब वर्ष 2007 में तीरंदाजी खेल की शुरूआत की थी तब इतनी खेल सुविधाएं और उपकरण नहीं थे लेकिन मैने हार नहीं मानी और आज मैं इस मुकाम पर हूं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को अवसर का लाभ अवश्य उठाना चाहिए। खिलाड़ी के भीतर काॅन्फिडेंस जरूरी है। कोच के अलावा साथी खिलाड़ियों से भी अनुभव शेयर कर सीखना चाहिए, इससे खेल में निखार आयेगा।

संचालक खेल और युवा कल्याण डाॅ. एस.एल. थाउसेन ने स्वागत भाषण में कहा कि प्रांतीय ओलम्पिक ख्ेाल के लिए शासन की परिकल्पना का उद्देश्य पारंपरिक खेलों के अलावा काॅमनवेल्थ, एशियन और ओलम्पिक के लिए प्रदेश की प्रतिभाओं को तैयार करना और उन्हें प्रतिभा प्रदर्शन के अधिकतम अवसर प्रदान करना है। उन्होंने बताया कि 1 से 7 फरवरी तक राज्य स्तरीय गुरूनानक देव जी प्रांतीय ओलम्पिक खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है जिसमें दस संभागों के खिलाड़ी दस खेलों में भागीदारी कर रहे हैं। उन्होंने कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों का पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया और अंत में स्मृति चिन्ह भेंट किए।

प्रतियोगिता के अंतर्गत प्रथम समूह में 1 से 3 फरवरी तक व्हाॅलीबाल, फुटबाल, कुश्ती, बैडमिंटन और कबड्डी की प्रतियोगिताएं प्रारंभ हुई और प्रथम दिवस नाॅक आउट मुकाबले खेले गए।

 

समा. क्र.33

———————-

महेन्द्र व्यास,
जनसम्पर्क अधिकारी

वचन पत्र में किए गए वायदे पूरे कर रही है सरकार-खेल मंत्री श्री पटवारी, राज्य स्तरीय गुरूनानक देवजी प्रांतीय ओलम्पिक खेल का रंगारंग शुभारंभ
Scroll to top