प्रत्येक प्रशिक्षक स्लाट बनाकर खिलाड़ियों से प्रतिदिन चर्चा करेंगे

प्रत्येक प्रशिक्षक स्लाट बनाकर खिलाड़ियों से प्रतिदिन चर्चा करेंगे
खेल मंत्री माननीया सिंधिया ने शूटिंग अकादमी का किया निरीक्षण

भोपाल : बुधवार, जुलाई 22, 2020

खेल एवं युवा कल्याण मंत्री माननीया यशोधरा राजे सिंधिया ने बिशनखेड़ी स्थित शूटिंग अकादमी का निरीक्षण और प्रशिक्षकों से वन-टू-वन चर्चा की। माननीया मंत्री ने निर्देश दिए हैं कि कोविड-19 के कारण खिलाड़ी मैदान पर आकर प्रशिक्षण नहीं ले पा रहे हैं, ऐसे में प्रत्येक प्रशिक्षक स्लाट बनाकर खिलाड़ियों से प्रतिदिन उनकी फिटनेस, ट्रेनिंग डायट आदि की चर्चा करें। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर के परफारमेंस देने वाले खिलाड़ियों की फिटनेस वीडियो बनाकर प्रशिक्षक से वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से चर्चा करें। सभी खिलाड़ियों से रोज बात करें।

खेल मंत्री ने शूटिंग अकादमी के प्रशिक्षकों से वन-टू-वन चर्चा करते हुए कहा कि यह उत्कृष्ट अकादमी है और आपका लक्ष्य उत्कृष्ठता होना चाहिए, अर्थात अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में मेडल लाना ही लक्ष्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जल्द ही ओलम्पिक और एशियन गेम्स के लिए खिलाड़ियों को चिन्हित किया जायेगा।

माननीया मंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर के परफारमेंस के लिए हाई लेवल फिटनेस जरूरी होता है। उन्होंने प्रशिक्षकों से कहा कि भविष्य के लिए गेम एक्शन प्लान तैयार करें।

खेल मंत्री ने कहा कि कोविड-19 के कारण जो खिलाड़ी घर पर हैं उनके लिए पाठयक्रम बनाकर उन्हें प्रशिक्षित करें। अगर खिलाड़ी परफारमेंस नहीं दे रहे हैं तो उन्हें बदलकर नए बच्चों को मौका दे।

इस अवसर पर संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन, संयुक्त संचालक डॉ विनोद प्रधान एवं श्री बी एस यादव सहित अन्य अधिकारी एवं प्रशिक्षक मौजूद थे।

शूटिंग अकादमी में शुरू होगी स्मार्ट क्लासेस

खेल मंत्री ने कहा कि शूटिंग अकादमी में जल्द स्मार्ट क्लास रूम की शुरूआत होगी। स्मार्ट क्लास के माध्यम से खिलाड़ी खेल की बारीकियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षकों से जान पायेंगे। साथ ही खिलाड़ियों के लिए फिटनेस ट्रेनिंग और योगा क्लासेस भी प्रतिदिन होंगी, ऐसी व्यवस्था की जाय।

खेल मंत्री ने कहा कि अब हर जिला स्पोटर्स सेन्टर में शूटिंग टारगेट प्रेक्टिस करने के लिए एक कक्ष होगा। इस व्यवस्था से ग्रामीण प्रतिभाओं को भी मौका मिल सकेगा।

प्रत्येक प्रशिक्षक स्लाट बनाकर खिलाड़ियों से प्रतिदिन चर्चा करेंगे
Scroll to top