प्रदेश को खेलो में नंबर वन राज्य बनाने का मुख्यमंत्री का स्वप्न करेंगे साकार-खेलमंत्री श्री पटवारी, हाॅकी और शूटिंग खिलाड़ियों को मिली सिंथेटिक टर्फ और स्कीट एवं टेªप रैंज की सौगात

संचालनालय खेल और युवा कल्याण, म.प्र.
तात्या टोपे राज्य खेल परिसर, भोपाल
समाचार
हाॅकी और शूटिंग खिलाड़ियों को मिली सिंथेटिक टर्फ और स्कीट एवं टेªप रैंज की सौगात
खेलों से मिलता है खिलाड़ियों को सम्मान-जनसंपर्क मंत्री श्री शर्मा
प्रदेश को खेलो में नंबर वन राज्य बनाने का मुख्यमंत्री का स्वप्न करेंगे साकार-खेलमंत्री श्री पटवारी
खेलों को पर्यटन से जोड़ा जाएगा-पर्यटन मंत्री श्री बघेल

भोपालः 10 फरवरी, 2020

प्रदेश के खिलाड़ियों को उच्च स्तरीय खेल सुविधाएं और प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के लिए मध्य प्रदेश सरकार वचनबद्ध है। प्रदेश को खेलों के क्षेत्र में नंबर वन राज्य बनाने के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के स्वप्न को साकार किया जाएगा। यह विचार खेल और युवा कल्याण एवं उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने आज मध्य प्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी में आयोजित भूमिपूजन समारोह में व्यक्त किए। प्रदेश के जनसम्पर्क, विधि विधायी कार्य, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, विमानन, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्री पी.सी. शर्मा के मुख्य आतिथ्य, खेल मंत्री श्री जीतू पटवारी की अध्यक्षता तथा नर्मदा घाटी एवं पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह हनी बघेल के विशिष्ट आतिथ्य में आयोजित भूमिपूजन कार्यक्रम में हाॅकी खिलाड़ियों के लिए 19 करोड़ 96 लाख की लागत से निर्मित होने वाले दो सिंथेटिक टर्फ तथा शूटिंग खिलाड़ियों के लिए 5 करोड़ 22 लाख रूपये की लागत से बनने वाले दो टेªप एवं स्कीट रैंज की आधारशिला रखी गई। मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, श्री जीतू पटवारी और श्री सुरेन्द्र सिंह हनी बघेल ने शूटिंग अकादमी का भ्रमण कर खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही खेल सुविधाओं का जायजा लिया और शाॅटगन से निशाना भी साधा।

भूमिपूजन समारोह को संबोधित करते हुए जनसंपर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि हाॅकी की नर्सरी के रूप में भोपाल ने अलग पहचान बनाई है। भोपाल ने देश को कई ओलम्पियन खिलाड़ी दिए हैं जिन्होंने प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि प्रदेश को खेलों में अग्रणी राज्य बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ एवं खेलमंत्री श्री जीतू पटवारी निरंतर प्रयासरत हैं। उन्होंने खिलाड़ियों को परिश्रम कर प्रतिभा निखारने और खेलों में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि खेलों से खिलाड़ियों को सम्मान मिलता है।

खेलमंत्री श्री जीतू पटवारी ने प्रदेश में संचालित 24 हाॅकी फीडर सेंटर और महिला एवं पुरूष हाॅकी अकादमी का उल्लेख करते हुए कहा कि हाॅकी के क्षेत्र में प्रदेश में जितने संसाधन हैं उतने अन्य प्रदेशों में नहीं हैं। भोपाल देश का पहला ऐसा शहर होगा जहां छह सिंथेटिक टर्फ खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध होंगे। इसके चलते मध्य प्रदेश को अंतर्राष्ट्रीय स्तरीय टूर्नामेंट की मेजबानी का भी अवसर मिलेगा साथ ही साथ टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने बताया कि इंदौर में विलाबली तालाब को वाटर स्पोट्र्स के लिए तैयार किया जा रहा है जहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। इसी तरह महेश्वर में कैनो स्लालम कोर्स नर्मदा की सहस्त्रधारा पर संचालित किया जा रहा है। यहां पर्यटन की बेहतर संभावनाएं हैं। ख्ेाल मंत्री श्री पटवारी ने खेलों को पर्यटन से जोड़ने के लिए पर्यटन मंत्री श्री बघेल से सहयोग का आग्रह किया।

पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह हनी बघेल ने खेलों के क्षेत्र में किए जा रहे विकास पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए खेल मंत्री के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि खेलों के क्षेत्र में पर्यटन की बेहतर संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए खेलांे को पर्यटन से जोड़ने के लिए हरसंभव कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने खिलाड़ियों को टिप्स देते हुए कहा कि खेल ऐसी विधा है जिससे कैरियर का निर्माण होता है। बेहतर परफारमेंस के लिए कमिटमेंट बहुत जरूरी है। काम्पटीशन में सफल होने का कोई शार्टकट नहीं होता। खिलाड़ियों को अनुशासन में रहकर खेलना चाहिए।

 

संचालक खेल और युवा कल्याण डाॅ. एस.एल. थाउसेन ने स्वागत उद्बोधन में कहा कि खेल विभाग द्वारा खिलाड़ियों को अत्याधुनिक खेल सुविधाएं और हाॅय परफारमेंस टेªनिंग उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि प्रदेश के खिलाड़ी पिछले राष्ट्रीय खेलों की तुलना में आगामी राष्ट्रीय खेलांे में अधिक पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित करेंगे।
समारोह को हाॅकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री राजिन्दर सिंह ने भी संबोधित किया। उन्होंने सिंथेटिक टर्फ से खिलाड़ियों को मिलने वाले लाभ की जानकारी देते हुए बताया कि अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में खिलाड़ी इसका लाभ उठा सकेंगे। इस अवसर पर कार्यपालन यंत्री राजधानी परियोजना प्रशासन श्री राजेश सूद, संयुक्त संचालक डाॅ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में खिलाड़ी उपस्थित थे।

 

समा. क्र.42

 


महेन्द्र व्यास,
जनसम्पर्क अधिकारी

प्रदेश को खेलो में नंबर वन राज्य बनाने का मुख्यमंत्री का स्वप्न करेंगे साकार-खेलमंत्री श्री पटवारी, हाॅकी और शूटिंग खिलाड़ियों को मिली सिंथेटिक टर्फ और स्कीट एवं टेªप रैंज की सौगात
Scroll to top